Shortage Of Vaccine In Haryana  – हरियाणा: वैक्सीन की कमी से बढ़ रहा टीकाकरण का इंतजार, वैक्सीनेशन केंद्र भी हुए कम

सार

करनाल, सोनीपत, कैथल, कुरुक्षेत्र, अंबाला और नारनौल में वैक्सीन की कमी है। इस कारण युवाओं को दिक्कत आ रही है। प्रदेश के अन्य जिलों में भी इसी प्रकार की स्थिति है।

ख़बर सुनें

हरियाणा में वैक्सीन की कमी के चलते 18 से 44 साल के लोगों का टीकाकरण के लिए इंतजार लगातार बढ़ता जा रहा है। फिलहाल कोविन पोर्टल पर पंजीकरण तो हो रहा है, लेकिन युवाओं को टीकाकरण के लिए स्लॉट नहीं मिल रहा है। एक-एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी युवाओं को इंजेक्शन के लिए तिथि नहीं मिल रही है। टीकाकरण के प्रति उत्साह होने के चलते जैसे ही पोर्टल पर स्लॉट खुलता है तो कुछ ही मिनटों में बुक हो जाता है। स्टॉक कम होने के कारण प्रदेश में टीकाकरण केंद्रों की संख्या भी घटती जा रही है। 

15 दिन पहले 1600 टीका केंद्र थे, जिनकी संख्या घटकर अब 560 रह गई है। प्रदेश सरकार की ओर से 50 लाख डोज का ऑर्डर अप्रैल के अंतिम सप्ताह में दिया गया था। लेकिन इसके मुकाबले प्रदेश को कम सप्लाई मिल रही है।

टीकाकरण में पिछड़ रहे युवा
18 से 44 साल की आयु के लोगों के लिए 1 मई से प्रदेश में टीकाकरण शुरू हुआ था। कोविन पोर्टल के अनुसार, अब तक प्रदेश में 49,36,158 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। इनमें से 40,18,112 ने पहली और 9,18,046 ने दूसरी डोज ली है। टीकाकरण में बुजुर्ग सबसे आगे हैं और युवा पीछे हैं। 60 साल से अधिक आयु के 16,39,151 डोज ले चुके हैं। 45 से 60 आयु के 15,88,392 वैक्सीन ले चुके हैं। इसी प्रकार, 18 से 30 साल के बीच के 3,02,622 और 30 से 45 आयु के 4,85,993 टीका लगवा चुके हैं। हालांकि, युवा अधिक से अधिक पंजीकरण करा रहे हैं, लेकिन उनको वैक्सीन नहीं मिल रही है। 

मई    कुल    18 से 44 तक
1    13934    2030
2    18973    15042
3    59591    43974
4    73405    48696
5    61602    28076
6    106553    50467
7    10857    40605
8    74627    31877
9    55566    26799
10    119216    44088
11    98075    39385
12    60977    28686
13    86346    31356
14    51762    17656
15    48917    22277

लोग बोले, कब मिलेगी बुकिंग
करनाल के एडवोकेट हरीष आर्य ने बताया कि पोर्टल पर पंजीकरण तो रहा है, लेकिन बुकिंग नहीं मिल रही है। पानीपत के गांव भालसी निवासी सुरेंद्र कुमार ने बताया कि पंजीकरण के पांच दिन बाद भी उसे टीकाकरण की तिथि नहीं मिली है। इसी प्रकार, जींद निवासी कृष्ण शर्मा ने बताया कि उसे बाहर जाना है, लेकिन चार दिन से टीके के इंतजार में है।

 

विस्तार

हरियाणा में वैक्सीन की कमी के चलते 18 से 44 साल के लोगों का टीकाकरण के लिए इंतजार लगातार बढ़ता जा रहा है। फिलहाल कोविन पोर्टल पर पंजीकरण तो हो रहा है, लेकिन युवाओं को टीकाकरण के लिए स्लॉट नहीं मिल रहा है। एक-एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी युवाओं को इंजेक्शन के लिए तिथि नहीं मिल रही है। टीकाकरण के प्रति उत्साह होने के चलते जैसे ही पोर्टल पर स्लॉट खुलता है तो कुछ ही मिनटों में बुक हो जाता है। स्टॉक कम होने के कारण प्रदेश में टीकाकरण केंद्रों की संख्या भी घटती जा रही है। 

15 दिन पहले 1600 टीका केंद्र थे, जिनकी संख्या घटकर अब 560 रह गई है। प्रदेश सरकार की ओर से 50 लाख डोज का ऑर्डर अप्रैल के अंतिम सप्ताह में दिया गया था। लेकिन इसके मुकाबले प्रदेश को कम सप्लाई मिल रही है।

टीकाकरण में पिछड़ रहे युवा

18 से 44 साल की आयु के लोगों के लिए 1 मई से प्रदेश में टीकाकरण शुरू हुआ था। कोविन पोर्टल के अनुसार, अब तक प्रदेश में 49,36,158 लोगों को टीका लगाया जा चुका है। इनमें से 40,18,112 ने पहली और 9,18,046 ने दूसरी डोज ली है। टीकाकरण में बुजुर्ग सबसे आगे हैं और युवा पीछे हैं। 60 साल से अधिक आयु के 16,39,151 डोज ले चुके हैं। 45 से 60 आयु के 15,88,392 वैक्सीन ले चुके हैं। इसी प्रकार, 18 से 30 साल के बीच के 3,02,622 और 30 से 45 आयु के 4,85,993 टीका लगवा चुके हैं। हालांकि, युवा अधिक से अधिक पंजीकरण करा रहे हैं, लेकिन उनको वैक्सीन नहीं मिल रही है। 


आगे पढ़ें

ये हैं टीकाकरण के आंकड़े


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button