Jammu-kashmir: Work Will Be Done To Promote Agriculture, Iffco Will Start The Project – जम्मू-कश्मीर: कृषि को बढ़ावा देने के लिए होगा काम, इफ्को शुरू करेगा प्रोजेक्ट 

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: करिश्मा चिब
Updated Wed, 08 Dec 2021 11:53 AM IST

सार

प्रमुख सचिव ने इफ्को किसान टीम को सूचित किया कि हाल ही में नीति आयोग के एक सर्वेक्षण के अनुसार जम्मू और कश्मीर एक साल के भीतर कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में कुल मिलाकर पांचवें स्थान पर पहुंच गया है।

किसान

किसान
– फोटो : पीटीआई

ख़बर सुनें

विस्तार

भारतीय किसान उर्वरक सहकारी लिमिटेड (इफ्को) के प्रबंध निदेशक संदीप मल्होत्रा ने मंगलवार को कृषि उत्पादन एवं किसान कल्याण प्रमुख सचिव नवीन चौधरी से मुलाकात की। इफ्को के एमडी ने किसानों और बागवानों को तकनीकी हस्तक्षेप प्रदान करने के उद्देश्य से कई पहलुओं पर चर्चा की। 

जानकारी दी गई कि इफ्को जम्मू-कश्मीर में कृषि और संबद्ध क्षेत्रों को बढ़ावा देने के लिए नाबार्ड के साथ साझेदारी में काम करेगा। प्रमुख सचिव ने इफको किसान प्रतिनिधियों को एक विस्तृत प्रस्ताव प्रस्तुत करने और बाद में पायलट आधार पर निर्दिष्ट स्थानों पर अपनी प्रौद्योगिकियों को लागू करने के लिए कहा। 

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: रायपुर-सतवारी रूट पर ओवरलोडिंग दे रही हादसों को न्योता, जान जोखिम में डालकर सफर करने के लिए लोग मजबूर


औषधीय पौधों में बादाम, अखरोट, जैतून, हल्दी और कुछ अन्य फसलों का परीक्षण शुरू में किया जाएगा। प्रमुख सचिव ने इफ्को किसान टीम को सूचित किया कि हाल ही में नीति आयोग के एक सर्वेक्षण के अनुसार जम्मू और कश्मीर एक साल के भीतर कृषि और संबद्ध क्षेत्रों में कुल मिलाकर पांचवें स्थान पर पहुंच गया है। केंद्र शासित प्रदेश अब औसत किसानों की घरेलू आय में तीसरे स्थान पर है। प्रमुख सचिव ने बताया कि बागवानी विभाग ने पिछले वर्ष में 10 लाख पौधे लगाए हैं।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button