Himachal Pradesh Vyapar Mandal Adhyaksh Somesh Sharma Ultimatum To State Government – सरकार ने वार्ता न की तो बुधवार से चार घंटे सभी दुकानें खोलेंगे व्यापारी

अमर उजाला नेटवर्क, ऊना
Published by: अरविन्द ठाकुर
Updated Sun, 16 May 2021 08:48 PM IST

पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सोमेश शर्मा।
– फोटो : अमर उजाला

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष सोमेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोरोना नहीं, व्यापारी कर्फ्यू लगाया गया है। रविवार को ऊना के विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सोमेश शर्मा ने कहा कि व्यापार मंडल के 255 पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की गई है। बैठक में प्रदेश सरकार को दो दिन के भीतर वार्ता करने का अल्टीमेटम दिया गया है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठक में लिया गया फैसला व्यापारियों के लिए संतोषजनक नहीं, सरकार को इस पर फिर से विचार करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि सभी दुकानें एक साथ खोली जाएं। व्यापारी सदमे में आकर आत्महत्या कर रहे हैं। कई दुकानदारों को तो रोजी-रोटी के लाले पड़े हुए हैं। प्रदेश व्यापार प्रदेश मंडल ने सरकार से व्यापारियों के लिए एसओपी तैयार करने की मांग की है। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर प्रदेश सरकार ने व्यापारियों की मांग न मानी तो व्यापार मंडल बुधवार से सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक सभी दुकानें खोलेंगे। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस और प्रशासन की ओर से किसी भी दुकानदार का चालान किया गया तो व्यापारी अपने-अपने परिवारों के साथ सड़कों पर उतरेंगे और धारा 144 का उल्लंघन भी करेंगे।

सोमेश शर्मा ने कहा कि लोग अमृतसर से बिना किसी मतलब से मनाली पहुंच रहे हैं और व्यापारियों के चालान किए जा रहे हैं। सोमेश शर्मा ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि से लेकर प्रधान, नगर परिषद अध्यक्ष से लेकर विधायक और सांसद व्यापारी वर्ग का साथ दें। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर चुने हुए प्रतिनिधि उनका साथ नहीं देते हैं तो आने वाले समय में वे इन सभी का बहिष्कार करेंगे और न ही उन्हें वोट देंगे और वोट मांगने के लिए बाजार में भी नहीं आने देंगे। इस मौके पर उनके साथ प्रदेश व्यापार मंडल के सचिव राकेश कैलाश भी उपस्थित रहे।

हिमाचल प्रदेश व्यापार मंडल के अध्यक्ष सोमेश शर्मा ने कहा कि प्रदेश में कोरोना नहीं, व्यापारी कर्फ्यू लगाया गया है। रविवार को ऊना के विश्राम गृह में पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए सोमेश शर्मा ने कहा कि व्यापार मंडल के 255 पदाधिकारियों के साथ वर्चुअल बैठक की गई है। बैठक में प्रदेश सरकार को दो दिन के भीतर वार्ता करने का अल्टीमेटम दिया गया है। उन्होंने कहा कि कैबिनेट की बैठक में लिया गया फैसला व्यापारियों के लिए संतोषजनक नहीं, सरकार को इस पर फिर से विचार करना चाहिए। 

उन्होंने कहा कि सभी दुकानें एक साथ खोली जाएं। व्यापारी सदमे में आकर आत्महत्या कर रहे हैं। कई दुकानदारों को तो रोजी-रोटी के लाले पड़े हुए हैं। प्रदेश व्यापार प्रदेश मंडल ने सरकार से व्यापारियों के लिए एसओपी तैयार करने की मांग की है। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर प्रदेश सरकार ने व्यापारियों की मांग न मानी तो व्यापार मंडल बुधवार से सुबह नौ बजे से दोपहर एक बजे तक सभी दुकानें खोलेंगे। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस और प्रशासन की ओर से किसी भी दुकानदार का चालान किया गया तो व्यापारी अपने-अपने परिवारों के साथ सड़कों पर उतरेंगे और धारा 144 का उल्लंघन भी करेंगे।

सोमेश शर्मा ने कहा कि लोग अमृतसर से बिना किसी मतलब से मनाली पहुंच रहे हैं और व्यापारियों के चालान किए जा रहे हैं। सोमेश शर्मा ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधि से लेकर प्रधान, नगर परिषद अध्यक्ष से लेकर विधायक और सांसद व्यापारी वर्ग का साथ दें। सोमेश शर्मा ने कहा कि अगर चुने हुए प्रतिनिधि उनका साथ नहीं देते हैं तो आने वाले समय में वे इन सभी का बहिष्कार करेंगे और न ही उन्हें वोट देंगे और वोट मांगने के लिए बाजार में भी नहीं आने देंगे। इस मौके पर उनके साथ प्रदेश व्यापार मंडल के सचिव राकेश कैलाश भी उपस्थित रहे।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button