Ganga Jayanti Will Be Celebrated On 18 May – गंगा जयंती: कोरोना महामारी के कारण घर पर ही करें ये काम

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, जम्मू
Published by: प्रशांत कुमार
Updated Sun, 16 May 2021 10:58 PM IST

सार

कोरोना महामारी के कारण घर पर ही पानी में गंगाजल डालकर स्नान कर जरूरतमंदों को दान-पुण्य करें। सत्तू, घड़ा और हाथ का पंखा दान करना फलदायी होगा।

सांकेतिक तस्वीर
– फोटो : अमर उजाला, फाइल फोटो

ख़बर सुनें

वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी को गंगा जयंती मनाई जाती है। इस बार मंगलवार 18 मई को गंगा जयंती है। मंगलवार को ही रामानुजाचार्य जयंती और भगवान चित्रगुप्त जयंती भी मनाई जाएगी। धर्मग्रंथों के अनुसार राजा भागीरथ को पूर्वजों की अस्थियां विसर्जित करने के लिए बहते हुए निर्मल जल की जरूरत थी।

इसके लिए भागीरथ ने मां गंगा की कड़ी तपस्या की। मां गंगा ने प्रसन्न होकर धरती पर अवतरित होने की बात मान ली, लेकिन उनका वेग इतना तीव्र था कि धरती पर आने से प्रलय आ सकती थी। तब भगवान शिव ने वैशाख शुक्ल सप्तमी को गंगा को अपनी जटाओं में धारण किया, जिससे उनका वेग कम हो गया। तब से इस दिन को गंगा सप्तमी या गंगा जयंती के रूप में मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें- पबजी का नशा: बेटे की इस करतूत ने तबाह कर दिया परिवार, सच सामने आया तो सब सन्न रह गए

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: 24 घंटे में मिले 4141 नए मरीज, सीनियर प्रोफेसर सहित 59 की मौत

विस्तार

वैशाख मास के शुक्ल पक्ष की सप्तमी को गंगा जयंती मनाई जाती है। इस बार मंगलवार 18 मई को गंगा जयंती है। मंगलवार को ही रामानुजाचार्य जयंती और भगवान चित्रगुप्त जयंती भी मनाई जाएगी। धर्मग्रंथों के अनुसार राजा भागीरथ को पूर्वजों की अस्थियां विसर्जित करने के लिए बहते हुए निर्मल जल की जरूरत थी।

इसके लिए भागीरथ ने मां गंगा की कड़ी तपस्या की। मां गंगा ने प्रसन्न होकर धरती पर अवतरित होने की बात मान ली, लेकिन उनका वेग इतना तीव्र था कि धरती पर आने से प्रलय आ सकती थी। तब भगवान शिव ने वैशाख शुक्ल सप्तमी को गंगा को अपनी जटाओं में धारण किया, जिससे उनका वेग कम हो गया। तब से इस दिन को गंगा सप्तमी या गंगा जयंती के रूप में मनाया जाता है।

यह भी पढ़ें- पबजी का नशा: बेटे की इस करतूत ने तबाह कर दिया परिवार, सच सामने आया तो सब सन्न रह गए

यह भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर: 24 घंटे में मिले 4141 नए मरीज, सीनियर प्रोफेसर सहित 59 की मौत


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button