Devotees of Kartarpur Corridor will be able to visit Kovid Protocol will have to be followed | करतारपुर कॉरिडोर का भक्त कर सकेंगे दर्शन कोविड प्रोटोकोल का करना होगा पालन


डिजिटल डेस्क, नई दिल्ली। आज से करतारपुर कॉरिडोर खुलने जा रहा है। कोविड नियमों का पालन करते हुए श्रध्दालु एक बार फिर करतार साहिब गुरूद्वारा के दर्शन कर सकेंगे। उन श्रध्दालुओं को ही पाकिस्तान जाने की अनुमति मिलेगी जिन्होंने कोविड वैक्सीन की दोनों डोज लगवा लिए होंगे। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया था कि पाकिस्तान के नरोवाल में करतारपुर साहिब की ओर जाने वाले गलियारे के माध्यम से भक्तों की आवाजाही फिर से शुरू करने का निर्णय श्री गुरु नानक देव-जी और हमारे सिख समुदाय के प्रति मोदी सरकार की अपार श्रद्धा को दर्शाता है।

गृह मंत्री शाह ने ये भी कहा कि राष्ट्र 19 नवंबर को गुरु नानक देव का प्रकाश उत्सव मनाने की तैयारी कर रहा है और उन्हें विश्वास है कि यह कदम देश भर में खुशी और उत्साह को और बढ़ाएगा। पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने केंद्र के फैसले का स्वागत किया और कहा कि राज्य मंत्रिमंडल उस जत्थे का हिस्सा होगा जो 18 नवंबर को पाकिस्तान में गुरुद्वारे का दौरा करेगा। कोरोना को देखते हुए करतारपुर गलियारा की यात्रा के लिए कोविड प्रोटोकोल की शर्तें पूरी करनी होंगी। 

4.5 किमी लंबा गलियारा पंजाब के गुरदासपुर में डेरा बाबा नानक मंदिर को अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगभग 4 किमी दूर पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के एक छोटे से शहर दरबार साहिब करतारपुर से जोड़ता है। यह वह स्थान है जहां सिख धर्म के संस्थापक गुरु नानक ने अपने जीवन के अंतिम 18 वर्ष बिताए थे।

मंगलवार को गृह मंत्री अमित शाह ने घोषणा की थी कि बुधवार से करतारपुर साहिब गलियारा फिर से खोल दिया जाएगा। केंद्र सरकार ने 19 नवंबर की गुरु नानक देव की जयंती पर्व से पहले सिख श्रद्धालुओं को तोहफा दिया है। नवंबर 2019 में खुला करतारपुर कॉरिडोर महामारी के कारण मार्च 2020 से बंद था।
 

 




Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button