Chinese woman who entered Trump’s resort illegally deported after serving sentence | ट्रंप के रिसॉर्ट में अवैध रूप से घुसने वाली चीनी महिला को सजा काटने के बाद निर्वासित किया गया


डिजिटल डेस्क,नई दिल्ली। पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के रिजॉर्ट में अवैध रूप से दाखिल होने पर गिरफ्तार की गई चीनी महिला को लंबे समय तक सजा काटने के बाद अब निर्वासित कर दिया गया है।

संघीय अधिकारियों के अनुसार, पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के रिसॉर्ट मार-ए-लागो क्लब में घुसपैठ करने के आरोप में आठ महीने की जेल की सजा काटने के बाद दो साल तक अमेरिकी आव्रजन हिरासत में रहने वाली एक चीनी व्यवसायी को निर्वासित कर दिया गया है।

मियामी हेराल्ड ने आव्रजन और सीमा शुल्क प्रवर्तन अधिकारियों के हवाले से बताया कि 35 वर्षीय युजिंग झांग ने अपनी सजा पूरी कर ली थी और दिसंबर 2019 की शुरुआत में उसे आव्रजन हिरासत में स्थानांतरित कर दिया गया था।

लेकिन उसे मुख्य रूप से कोविड-19 महामारी के दौरान निर्वासन में देरी के कारण उसकी जेल की अवधि से तीन गुना अधिक समय तक ग्लेड्स काउंटी डिटेंशन सेंटर में रखा गया था।

संघीय अदालत के रिकॉर्ड के अनुसार, झांग आव्रजन हिरासत में इतनी हताश हो गई थी कि उसने दिसंबर 2020 में उसे निकालने के लिए प्रक्रिया में तेजी लाने को लेकर एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर की थी, जिसका कोई फायदा नहीं हुआ।

रिपोर्ट में कहा गया है कि झांग ने अंग्रेजी में लिखा था कि उसे पकड़ लिया गया है और उसके पास चीन में अपने परिवार को बुलाने के लिए पैसे तक नहीं हैं। महिला ने आगे लिखा था कि उसे आजादी पाने और घर जाने के लिए एक वकील की जरूरत है।

रिपोर्ट में कहा गया है कि झांग की कानूनी यात्रा मार्च 2019 के अंत में शुरू हुई थी।

मुकदमे से पहले, उसने एक मजिस्ट्रेट न्यायाधीश को यह नहीं बताया कि उसके पास पाम बीच के कॉलोनी होटल में उसके कमरे में लगभग 8,000 अमेरिकी डॉलर और चीनी मुद्रा थी, जहां वह पूर्व राष्ट्रपति के निजी क्लब में जाने के दौरान रह रही थी। रिपोर्ट में कहा गया है कि एजेंटों ने कमरे की तलाशी ली और उसके पैसे जब्त कर लिए, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है कि वह पैसे उसे लौटाए गए थे या नहीं। हालांकि अब निर्वासित प्रक्रिया पूरी होने पर झांग को राहत मिली है।

 

(आईएएनएस)


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button