Candle March Against Nps In Una – ऊना में एनपीएस के विरोध में निकाला कैंडल मार्च

ऊना शहर में विभिन्न संगठनों के पदाधिकारी व सदस्य न्यू पेंशन स्कीम के विरोध में कैंडल मार्च निकाल?
– फोटो : Una

ख़बर सुनें

ऊना। जिला मुख्यालय ऊना में वीरवार को विभिन्न कर्मचारी व शिक्षक संगठनों ने न्यू पेंशन स्कीम के विरोध कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान कर्मचारियों व शिक्षकों ने एनपीएस के विरोध में नारेबाजी भी की। बाद में कर्मचारी व शिक्षक नेताओं ने डीसी के माध्यम से सीएम जयराम ठाकुर को पुरानी पेंशन बहाली के लिए ज्ञापन भेजा और इस मसले पर तुरंत आवश्यक कदम उठाने की मांग की।
न्यू पेंशन स्कीम के विरोध में वीरवार शाम चार बजे से ही एमसी पार्क में शिक्षक व कर्मचारी जुटना शुरू हो गए थे। यहां कर्मचारियों व शिक्षकों ने एनपीएस के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर भड़ास निकाली और इसे कर्मचारी विरोधी करार दिया। शाम पांच बजे कर्मचारी और शिक्षक कैंडल मार्च निकालते हुए सड़क पर उतर पड़े। मार्च में महिला कर्मचारियों ने भी शिरकत की।
इस मौके पर स्कूल प्राध्यापक संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विकास रत्न ने कहा कि न्यू पेंशन योजना किसी भी लिहाज से कर्मचारियों के हित में नहीं हैं। इस योजना के आने से कर्मचारी वर्ग खुद को शोषित महसूस कर रहा है। हालत यह है कि कई साल सेवा देने के बाद सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पेंशन के नाम पर कुछ भी नहीं मिल रहा है। जिससे सरकारी कर्मचारी हताश हैं। सेवानिवृत्ति नजदीक आते ही कर्मचारियों को दूसरे काम धंधे की चिंता सताने लगती है।
पेंशन सही न मिलने के कारण अपने इलाज समेत अन्य खर्चे भी पूरे नहीं हो पाते हैं। जबकि पुरानी पेंशन स्कीम में अच्छी पेंशन मिलती है और कर्मचारी सेवानिवृत्ति के बाद अच्छा जीवनयापन कर सकता है। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर ने मांग की है कि पुरानी पेंशन योजना जल्द बहाल की जाए। इस अवसर पर स्कूल प्राध्यापक संघ के चेयरमैन विनोद बनियाल, रमेश ठाकुर, विनोद शर्मा, चंद्रकेश धीमान, रमन सहोड़ समेत अन्य मौजूद रहे।

ऊना। जिला मुख्यालय ऊना में वीरवार को विभिन्न कर्मचारी व शिक्षक संगठनों ने न्यू पेंशन स्कीम के विरोध कैंडल मार्च निकाला। इस दौरान कर्मचारियों व शिक्षकों ने एनपीएस के विरोध में नारेबाजी भी की। बाद में कर्मचारी व शिक्षक नेताओं ने डीसी के माध्यम से सीएम जयराम ठाकुर को पुरानी पेंशन बहाली के लिए ज्ञापन भेजा और इस मसले पर तुरंत आवश्यक कदम उठाने की मांग की।

न्यू पेंशन स्कीम के विरोध में वीरवार शाम चार बजे से ही एमसी पार्क में शिक्षक व कर्मचारी जुटना शुरू हो गए थे। यहां कर्मचारियों व शिक्षकों ने एनपीएस के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर भड़ास निकाली और इसे कर्मचारी विरोधी करार दिया। शाम पांच बजे कर्मचारी और शिक्षक कैंडल मार्च निकालते हुए सड़क पर उतर पड़े। मार्च में महिला कर्मचारियों ने भी शिरकत की।

इस मौके पर स्कूल प्राध्यापक संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष विकास रत्न ने कहा कि न्यू पेंशन योजना किसी भी लिहाज से कर्मचारियों के हित में नहीं हैं। इस योजना के आने से कर्मचारी वर्ग खुद को शोषित महसूस कर रहा है। हालत यह है कि कई साल सेवा देने के बाद सेवानिवृत्त कर्मचारियों को पेंशन के नाम पर कुछ भी नहीं मिल रहा है। जिससे सरकारी कर्मचारी हताश हैं। सेवानिवृत्ति नजदीक आते ही कर्मचारियों को दूसरे काम धंधे की चिंता सताने लगती है।

पेंशन सही न मिलने के कारण अपने इलाज समेत अन्य खर्चे भी पूरे नहीं हो पाते हैं। जबकि पुरानी पेंशन स्कीम में अच्छी पेंशन मिलती है और कर्मचारी सेवानिवृत्ति के बाद अच्छा जीवनयापन कर सकता है। उन्होंने सीएम जयराम ठाकुर ने मांग की है कि पुरानी पेंशन योजना जल्द बहाल की जाए। इस अवसर पर स्कूल प्राध्यापक संघ के चेयरमैन विनोद बनियाल, रमेश ठाकुर, विनोद शर्मा, चंद्रकेश धीमान, रमन सहोड़ समेत अन्य मौजूद रहे।


Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button